img1
आप यहां है : मुख्य पृष्ठ >> संगीत
कलापनी कोमकली
kalapini.jpg

कलापनी कोमकली कुमार गन्धर्व एवं वसुंधरा कोमकली की पुत्री है । संगीत इनके खून में है । वे भारतीय शास्त्रीय संगीत के नवीन रूप एवं ग्वालियर घराने की गायन शैली का प्रतिनिधित्व करती है । कुमार गन्धर्व की गायिकी की विरासत को प्राप्त कर उसकी उत्तराधिकारी के रूप में उसे प्रस्तुत करना एक कठिन कार्य है जो इन्होने प्रामाणिक रूप से किया ।

कलापनी के संगीत के कारण ही कुमार गन्धर्व के भारतीय शास्त्रीय संगीत पर प्रभाव को समझा जा सकता है ।

कलापनी  ने उत्तराधिकार में प्राप्त इस विरासत को अपनी संगीत को विशेष ऊचाई पर ले जाने में भरपूर उपयोग किया है । संगीत के क्षेत्र में कलापनी ने अपने पिता एवं गुरु की प्रेरणा से अपनी कला का आसाधारण परिचय दिया हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के सबसे कठिन पक्ष को उत्कृष्टता प्रदान की है जिसमे स्वरों को उच्चारित किये बिना राग को प्रस्तुत किया जाता है ।

कलापनी ने पुरे देश में स्वतंत्र रूप से अपनी प्रस्तुति भी दी है । पुस्तकालय विज्ञान में स्नातक होने के उपरांत उन्होंने अपने पिता सेसंगीत सीखा तथा वर्तमान में वे कुमार गन्धर्व के अकादमी की एक सक्रिय न्यासी है । वे अपनी माँ के साथ संगीत शिक्षा देती रही है ।